ताइवान ने चीन के नजदीक युद्धाभ्यास शुरू किया

ताइवान ने चीन के नजदीक युद्धाभ्यास शुरू किया

दक्षिण चीन सागर में तनाव अब अपने चरम पर है। अमेरिका के युद्धाभ्यास के बाद, ताइवान ने भी अब तमसुई नदी के पास जोरदार युद्धाभ्यास शुरू कर दिया है। तमसुई नदी के ठीक दूसरी ओर समुद्र के पार चीन है। ताइवान ने अपने युद्धाभ्यास में लड़ाकू हेलीकॉप्टर और फाइटर जेट को उतारा है जो गहरे पानी के भीतर बमबारी कर रहे हैं, और उनकी तोपें आग उगल रही हैं। चीनी जो कई सालों से ताइवान पर कब्जा करने की धमकी दे रहा है, इस युद्धाभ्यास को चुपचाप देखने के लिए मजबूर है।

असल में, तमसुई नदी के तट पर किसी भी चीनी द्वारा किसी भी हमले का जवाब देने के लिए ताइवान अब हर वर्ष युद्धाभ्यास करेगा जिसकी शुरुवात इसी साल से हो गई है। ताइवान द्वारा इस अभ्यास को Hank Uang ड्रिल नाम दिया गया है। मंदारिन में इसका अर्थ है – खोए हुए क्षेत्र को पुनः प्राप्त करना। इस सैन्य ड्रिल में ताइवान ने अपने टैंक, तोप, मिसाइल लांचर, पनडुब्बी और लड़ाकू जेट को उतारा हैं।

ताइवान के राष्ट्रपति त्‍साई इंगवेन ने युद्धअभ्यास पर कहा कि, “हम चाहते हैं कि दुनिया हमारे देश की रक्षा के लिए हमारी प्रतिबद्धता और प्रयासों को देखे और समझे।” यह पांच दिवसीय सैन्य ड्रिल शुक्रवार को समाप्त होने जा रही है। ताइवान का मकसद इस अभ्यास द्वारा खुद को चीन के हमले से बचना है।

डिफेंस से सम्बंधी समाचार और समीक्षाओं के लिए हमें अभी सब्सक्राइब करे और नियमित रूप से अपडेट प्राप्त करने के लिए घंटी आइकन पर क्लिक करें। इसके अलावा आप हमें ट्विटर और फेसबुक पर भी फॉलो कर सकते है।

Leave a Reply