चीन अब पाकिस्तान को अरबों डॉलर के हथियार दे रहा है

चीन अब पाकिस्तान को अरबों डॉलर के हथियार दे रहा है

चीन अब पाकिस्तान को अरबों डॉलर के हथियारों की मदद से भारत को लद्दाख में घेरने की कोशिश कर रहा है और साथ ही पूरे पाकिस्तानी नौसेना का रंग बदलने वाला है। चीन पहले से ही पाकिस्तान के ग्वादर में एक बड़ा नौसैनिक अड्डा बना रहा है। लेकिन अब चीन भारत के मित्र देश ईरान पर भी दबाव डाल रहा है जहाँ भारत ने चाबहार पोर्ट विकसित किया हुआ है।

चीन ने पाकिस्तान की नौसेना को और आधुनिक बनाने के लिए हथियारों का सौदा करना शुरू कर दिया है। पाकिस्तान ने चीन निर्मित युआन श्रेणी के 7 डीजल-इलेक्ट्रिक पनडुब्बियों के लिए समझौता किया है। ये पनडुब्बी एयर इंडिपेंडेंट प्रपॉल्‍शन से सुसज्जित हैं और लंबे समय तक पानी के नीचे रह सकने में कुशल हैं। इसके साथ ही, चीन पाकिस्तान को टाइप -544A बहुउद्देश्यीय स्टील फ्रीगेट्स की पेशकश भी कर रहा है जो किसी भी रडार को चकमा देने में सक्षम हैं। इसके साथ चीन पाकिस्तानी नौसेना को कई अन्य हथियार दे रहा है। इसके लिए पाकिस्तान ने चीन के साथ 7 बिलियन डॉलर का समझौता किया था। मौजूदा समय में पाकिस्तान अब चीन से 70 प्रतिशत हथियार खरीद का सौदा कर रहा है।

पाकिस्तान की नौसेना के पास वर्तमान समय में केवल 9 फ्रीगेट्स, 5 पनडुब्बियां और 10 मिसाइल बोट हैं। इस नई डील से पाकिस्तानी नौसेना बहुत ताकतवर हो जाएगी। पाकिस्तान के ये युद्धपोत 4000 समुद्री मील की दूरी तक हमला कर सकते हैं और ये सब जमीन से हवा में और पनडुब्बी रोधी मिसाइलों से लैस हैं। पाकिस्तान को ये हथियार 2021-23 के बीच मिलने के अनुमान है।

चीन अब पाकिस्तान की मदद से हिंद महासागर में घुसने की कोशिश में लगा हुआ है और काफी हद तक सफल भी हो रहा है। ताज़ा सैटलाइट तस्वीरों में पाकिस्तान के ग्वादर में चीन के नौसैनिक अड्डे के भी संकेत मिल हैं और माना जाता है कि इस बेस के बनने से हिंद महासागर में चीन की ताकत और भी बढ़ गई है।

डिफेंस से सम्बंधी समाचार और समीक्षाओं के लिए हमें अभी सब्सक्राइब करे और नियमित रूप से अपडेट प्राप्त करने के लिए घंटी आइकन पर क्लिक करें। इसके अलावा आप हमें ट्विटर और फेसबुक पर भी फॉलो कर सकते है।

Leave a Reply