वर्जीनिया के मार्स सेंटर से लॉन्च हुआ कार्गो स्पेसक्राफ्ट; 2 दिन बाद स्पेस स्टेशन से जुड़ेगा, यहां 3630 किलो कार्गो पहुंचाएगा


नासा का कमर्शियल कार्गो स्पेसक्राफ्ट वर्जीनिया के मिड-अटलांटिक रीजनल स्पेसपोर्ट (मार्स) से शुक्रवार रात 9.38 बजे (भारतीय समयानुसार शनिवार सुबह 7.05 बजे) लॉन्च हो गया। कार्गो स्पेसशिप कल्पना चावला (भारतीय मूल की पहली अंतरिक्ष यात्री) के नाम पर है। यह स्पेसक्राफ्ट दो दिन बाद इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (आईएसएस) से जुड़ेगा। यह स्पेसक्राफ्ट 3630 किलो कार्गो स्पेस स्टेशन पहुंचाएगा।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने स्पेसशिप की लॉन्चिंग शुक्रवार को दूसरी बार टाल दी। अमेरिकन एयरोस्पेस कंपनी नार्थरोप ग्रुमैन के इस कार्गो स्पेसशिप को शुक्रवार को लॉन्च किया जाना था। हालांकि, लॉन्चिंग से सिर्फ 2 मिनट 40 सेकंड पहले इसके ग्राउंड सपोर्ट इक्विपमेंट में खराबी आने के वजह से ऐसा नहीं हो सका। इससे पहले 29 सितंबर को खराब मौसम की वजह से इसे लॉन्च नहीं किया जा सका था।

नार्थरोप ग्रुमैन ने सितंबर में अपने इस स्पेसशिप का नाम कल्पना चावला के नाम पर रखने का ऐलान किया था। कंपनी ने कहा था- कल्पना चावला के नाम पर अपने अगले एनजी-14 सिग्नस स्पेसक्राफ्ट का नाम रखते हुए हमें गर्व हो रहा है।

एस एस कल्पना चावला एक री-सप्‍लाई शिप है

नार्थरोप ग्रुमैन कंपनी की परंपरा है हर सिग्‍नस स्‍पेसक्राफ्ट का नाम एक ऐसे शख्स के नाम पर रखा जाता है जिसने ह्यूमन स्‍पेस फ्लाइट में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई हो। कल्पना चावला को इस सम्मान के लिए इसलिए चुना गया क्‍योंकि उन्‍होंने भारतीय मूल की पहली अंतरिक्ष यात्री के रूप में इतिहास रचा था। एस एस कल्पना चावला एक री-सप्‍लाई शिप है। इसकी मदद से आईएसएस पर 3629 किग्रा सामान पहुंचाया जाएगा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


क्ल्पना चावला के नाम वाले स्पेसशिप की लॉन्चिंग वर्जीनिया स्थित नासा के स्पेस सेंटर से होगी। फोटो नासा के लॉन्च पैड पर स्पेसशिप को लॉन्चिंग के लिए रखे जाने के बाद की है।- फाइल फोटो

Leave a Reply