रिलायंस रिटेल वेंचर में केकेआर करेगा 5,500 करोड़ रुपए का निवेश, इससे पहले सिल्वर लेक ने लगाया था पैसा


प्राइवेट इक्विटी (पीई) कंपनी केकेआर रिलायंस रिटेल वेंचर्स (आरआरवीएल) में 5,500 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। यह निवेश आरआरवीएल की प्री मनी इक्विटी वैल्यू 4.21 लाख करोड़ रुपए पर होगा। इसके एवज में केकेआर को रिलायंस रिटेल में 1.28 प्रतिशत इक्विटी शेयर मिलेगा। रिलायंस रिटेल में दो कंपनियों का कुल निवेश अब 13 हजार करोड़ रुपए हो गया है।

केकेआर ने जियो टेलीकॉम में भी किया था निवेश

केकेआर का रिलायंस इंडस्ट्रीज ग्रुप में यह दूसरा निवेश है। इससे पहले इस कंपनी ने जियो टेलीकॉम में निवेश किया था। दोनों निवेश मिलाकर अब 11,367 करोड़ रुपए हो गया है। बता दें कि रिलायंस रिटेल, रिलायंस इंडस्ट्रीज की रिटेल कंपनी है। फिलहाल इसमें यह दूसरा निवेश है। इससे पहले दुनिया की दिग्गज टेक इन्वेस्टर कंपनी सिल्वर लेक ने रिलायंस रिटेल में 7500 करोड़ रुपए निवेश करने का फैसला किया था। इसके बदले में कंपनी को रिलायंस रिटेल में 1.75 फीसदी हिस्सेदारी मिलेगी।

सिल्वर लेक ने जियो में 10.200 करोड़ का निवेश किया था

सिल्वर लेक ने रिलायंस की टेक कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स में भी 10,200 करोड़ रुपए का निवेश किया था।रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि छोटे व्यापारियों के साथ एक समावेशी साझेदारी बनाने के हमारे प्रयास जारी हैं। इस संबंध में केकेआर के साथ अपने संबंधों को बढ़ाने में मुझे खुशी है। हमारा मानना ​​है कि रिटेल क्षेत्र में टेक्नोलॉजी का बड़ा योगदान होगा।

रिलायंस इंडस्ट्रीज छोटे व्यापारियों को जोड़ेगी

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपनी नई स्ट्रैटेजी के तहत छोटे और असंगठित व्यापारियों का ट्रांसफॉर्मेशनल डिजिटलाइजेशन शुरू किया है और इन व्यापारियों के 20 मिलियन से अधिक नेटवर्क का विस्तार करने के लिए प्रतिबद्ध है। रिलायंस रिटेल देश में सबसे बड़ी रिटेल का ऑपरेशन करती है। यह तेजी से बढ़ती हुई और लाभ कमाने वाली कंपनी है। इसके कुल 64 करोड़ फूटफॉल 12,000 स्टोर्स में रहे हैं।

रिलायंस रिटेल का विजन भारतीय रिटेल सेक्टर मे एक विशेष रणनीति के तहत ग्राहकों को सक्षम बनाने की योजना है। इसमें किसानों से लेकर सूक्ष्म, छोटे और मध्यम (एमएसएमई) उद्योगों को शामिल करने की योजना है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि छोटे व्यापारियों के साथ एक समावेशी साझेदारी बनाने के हमारे प्रयास जारी हैं

Leave a Reply