पेरिस में राफेल ने आवाज से भी तेज रफ्तार से उड़ान भरी, इतनी जोर से आवाज आई कि लोगों को लगा कहीं बम फटा है


फ्रांस की राजधानी पेरिस में बुधवार को धमाके जैसी आवाज सुनाई दी। इसके बाद पुलिस ने कहा कि यह किसी बम धमाके की आवाज नहीं थी। ध्वनि की रफ्तार से भी तेज उड़ान भर रहे एक राफेल प्लेन से यह आवाज निकली थी। न्यूज एजेंसी स्पुतनिक के मुताबिक, राफेल ने रेडियो सिग्नल से संपर्क खो चुके एक प्लेन की मदद के लिए उड़ान भरी थी। इसे मुश्किल में फंसे प्लेन की मदद के लिए इतनी तेजी से उड़ान भरने की मंजूरी दी गई थी।

पेरिस के पूर्वी इलाके में यह धमाके जैसी आवाज सुनाई दी। आवाज इतनी तेज थी कि लोगों की खिड़कियां तक हिलनी लगी। इसके बाद लोग डर गए। काफी लोगों ने पुलिस को फोन कर शहर में कहीं पर धमाके होने की शिकायत की। इसके बाद पुलिस ने इस बारे में बताया।

बीते हफ्ते पेरिस में शार्ली एब्दो के दफ्तर के पास चाकूबाजी हुई थी

बीते हफ्ते पेरिस के शार्ली एब्दो अखबार के ऑफिस के सामने चाकूबाजी हुई थी। इसमें चार लोग घायल हुए थे। पुलिस ने एक हमलावर को गिरफ्तार किया था। इसके बाद से ही पेरिस के लोगों में डर हैं। इसी महीने आतंकी संगठन अल कायदा ने भी फ्रांस पर हमले की धमकी दी थी। दरअसल, शार्ली एब्दो ने हाल ही में दोबारा पैगंबर मुहम्मद से जुड़े कार्टून छापे थे।

शार्ली एब्दो ने वही कार्टून छापे, जिनकी वजह से 2015 में उस पर आतंकी हमला हुआ था। शार्ली एब्दो के कार्टूनिस्ट व्यंग करते हुए विभिन्न धर्मों की कमियां दिखाते हैं। वे पहले ईसाई, यहूदी के भी कार्टून छाप चुके हैं।

23 सितंबर को एफिल टावर उड़ाने की धमकी मिली थी।

फ्रांस के सबसे लोकप्रिय टूरिस्ट प्लेस एफिल टॉवर को बम से उड़ाने की धमकी मिली थी। पुलिस अधिकारियों ने द एसोसिएटेड प्रेस को बताया था कि एक युवक ने फोन पर बताया कि उसने टॉवर में बम लगाया है। इसके बाद पूरे इलाके को खाली करा लिया गया था।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


राफेल विमान स्टील्थ टेक्नोलॉली से लैस है। भारत ने भी फ्रांस से राफेल विमान खरीदा है। इसका पहला बैच 29 जुलाई को भारत पहुंचा था।- फाइल फोटो

Leave a Reply