पाकिस्तान के सूचना मंत्री ने कहा- प्रधानमंत्री इमरान टिकटॉक पर बैन लगाना चाहते हैं, इसकी वजह से मुल्क में रेप के मामले बढ़ रहे हैं


पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान चाइनीज ऐप टिकटॉक पर बैन लगाना चाहते हैं, क्योंकि इसकी वजह से रेप बढ़ रहे हैं। यह जानकारी इन्फॉर्मेशन मिनिस्टर शिबली फराज ने दी है। फराज ने कहा- प्रधानमंत्री एक या दो बार नहीं, बल्कि 15 बार मुझसे इस बारे में बात कर चुके हैं। वे चाहते हैं कि उन ऐप्स के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए जो समाज में अपराध और अश्लीलता को बढ़ावा दे रहे हैं।

संबंधित विभागों से कार्रवाई के लिए कहा
‘द न्यूज’ से बातचीत में फराज ने कहा- प्रधानमंत्री मानते हैं कि समाज में अपराध और अश्लीलता बढ़ रही है। उन्होंने संबंधित विभागों से कहा है कि इससे पहले कि समाज तबाह हो, इस ट्रेंड को रोका जाए। वे मुझसे भी इस बारे में 15-16 बार बात कर चुके हैं। इस तरह के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स से रेप और बच्चों के साथ यौन अपराध को बढ़ावा मिल रहा है। हाल ही में उन्होंने मुझसे साफ कहा था कि टिकटॉक जैसे ऐप्स बैन किए जाने चाहिए।

इमरान की जिंदगी विदेश में गुजरी
फराज ने कहा- आप देखिए, हमारे प्रधानमंत्री की ज्यादातर जिंदगी पश्चिमी देशों में गुजरी। इसके बावजूद वे पाकिस्तान की समाज और संस्कृति को लेकर कितने फिक्रमंद हैं। वे इन्हें फिर मजबूत बनाना चाहते हैं। इनकी हिफाजत करना चाहते हैं। फराज ने भरोसा दिलाया कि सरकार इस मुद्दे पर गंभीर है और जल्द ही कदम उठाए जाएंगे। मंत्री ने आरोप लगाया कि प्राइवेट चैनल मनोरंजन के नाम पर आपत्तिजनक चीजें दिखाते हैं। इमरान चाहते हैं कि जिस तरह तुर्की और ईरान ने टीवी कार्यक्रमों पर लगाम कसी है, वैसा ही पाकिस्तान में भी होना चाहिए।

लेकिन, क्या टिकटॉक पर बैन लगा पाएंगे इमरान
टिकटॉक चीनी कंपनी का ऐप है। पाकिस्तान और चीन की दोस्ती जगजाहिर है। पाकिस्तान पर चीन का करोड़ों डॉलर का कर्ज है। ऐसे में सवाल है कि क्या भारत और अमेरिका की तर्ज पर इमरान भी यह कदम उठा पाएंगे। जुलाई में सरकार ने टिकटॉक को एक नोटिस जारी किया था। इसमें कहा गया था कि अश्लील कंटेंट पर रोक के उपाय किए जाएं। बीगो ऐप को बैन किया गया, लेकिन कुछ ही दिन में इसे हटा भी दिया गया।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


प्रतीकात्मक चित्र।

Leave a Reply