पाकिस्तान के कराची में धर्मगुरू मौलाना आदिल खान की हत्या, इमरान खान ने कहा- भारत शिया और सुन्नी समुदायों में हिंसा कराना चाहता है


पाकिस्तान के कराची शहर में शनिवार को मशहूर धर्मगुरू मौलान आदिल खान की गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। घटना में आदिल का ड्राइवर भी मारा गया। प्रधानमंत्री इमरान खान ने आदिल के निधन पर शोक जताया। कुछ देर बाद एक और बयान जारी किया। कहा- मौलाना की हत्या के जरिए भारत हमारे देश में शिया और सुन्नियों के बीच हिंसा भड़काना चाहता है। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

बड़े धर्मगुरू थे आदिल
मौलाना आदिल खान को पाकिस्तान के सबसे धर्मगुरुओं में से एक माना जाता था। शनिवार को मौलाना कराची के शाह फैसल मार्केट से गुजर रहे थे। उनका ड्राइवर गाड़ी चला रहा था। इसी दौरान बाइक पर दो लोग आए। उन्होंने मौलाना की गाड़ी पर गोलियां चलाईं। कार में मौलाना का सहयोगी उमैर खान भी था। वो किसी तरह बच गया। पुलिस ने कहा- हमें शक है कि मौलाना का काफी दूर से पीछा किया जा रहा था। इलाके के सीसीटीवी के जरिए सुराग हासिल करने की कोशिश की जा रही है। मौलाना रोज इसी रास्ते से घर जाते थे। हमलावरों को इस बात की जानकारी थी। मामले की जांच काउंटर टेरेरिज्म डिपार्टमेंट को सौंपी गई है।

आदिल के पिता सलीमउल्लाह खान वक्फ उल मदरिस अल अरेबिया के प्रेसिडेंट थे। वे जामिया फारूखी स्कूल के प्रिंसिपल भी रहे। आदिल कई सामाजिक संगठनों से भी जुड़े रहे हैं।

भारत पर आरोप
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने आदिल के निधन पर शोक जताया। इमरान ने कहा- तीन महीने से इस तरह की साजिशें चल रही हैं। मैं टीवी पर भी कई बार इस बारे में बात कर चुका हूं। मैंने कहा था कि भारत हमारे देश में आलिमों की हत्या कराकर शिया और सुन्नियों में तनाव बढ़ाना चाहता है। इसके जरिए वो देश में हिंसा फैलाना चाहता है। पाकिस्तान को इस तरह की हरकतों के जरिए अस्थिर करने की कोशिश हो रही है। हमारी सुरक्षा एजेंसियां इन साजिशों को कभी कामयाब नहीं होने देंगी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


पाकिस्तान के कराची शहर में शनिवार को मशहूर धर्मगुरू मौलान आदिल खान की गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। (फाइल)

Leave a Reply