जनरल कैटेगरी के कटऑफ में 7.5% की गिरावट, पिछले साल की तुलना में 4,499 ज्यादा कैंडिडेट्स क्वालिफाई हुए


सोमवार को IIT दिल्ली ने JEE एडवांस 2020 परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया है। कोरोना महामारी के बीच परीक्षा आयोजित होने के बावजूद 1.51 लाख कैंडिडेट्स इस परीक्षा में शामिल हुए। जिनमें से 43,204 काउंसिलिंग के लिए क्वालिफाई हुए। ये पहली बार है जब JEE मेंस से चयनित करीब 1 लाख कैंडिडेट्स ने JEE-एडवांस परीक्षा नहीं दी है।

क्या रहा इस साल का कटऑफ

कोरोना के दौरान हुई JEE एडवांस 2020 परीक्षा में सभी कैटेगरी के कटऑफ में काफी गिरावट देखने को मिली है। IIT दिल्ली द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, क्वालिफाई होने के लिये सामान्य वर्ग में कुल 396 में से न्यूनतम 69 अंक, ओबीसी तथा सामान्य ईडब्लूएस में 62-62 अंक, एससी, एसटी व दिव्यांग वर्ग में 34-34 अंकों के आधार पर विद्यार्थियों को काउंसिलिंग के लिये क्वालिफाई घोषित किया गया है।

2019 की तुलना में कम रहा इस साल का कटऑफ

इस साल के कटऑफ की तुलना पिछले साल के रिजल्ट से करने पर बड़ी गिरावट साफ दिख रही है। जनरल कैटेगरी का कटऑफ 25 से घटकर 17.5 प्रतिशत हो गया है। वहीं ओबीसी व ईडब्लूएस का कटऑफ 22.5 से घटकर 15.75 प्रतिशत, एससी,एसटी व दिव्यांग कैटेगरी का कटऑफ 12.5 से घटकर 8.75 प्रतिशत रह गया है।

कटऑफ कम होने से ज्यादा कैंडिडेट्स क्वालिफाई हुए

चूंकि कटऑफ में गिरावट आई है। तो जाहिर है पिछले साल की तुलना में क्वालिफाई होने वाले कैंडिडेट्स की संख्या भी बढ़ी है। 2019 में जेईई एडवांस परीक्षा में 38,705 कैंडिडेट्स क्वालिफाई हुए थे। वहीं 2020 में ये संख्या बढ़कर 43,204 हो गई है। यानी 4,499 ज्यादा स्टूडेंट्स को इस बार काउंसलिंग में हिस्सा लेने का मौका मिला है।

6 राउंड में ऑनलाइन काउंसलिंग 6 अक्टूबर से

ज्वॉइंट सीट अलॉटमेंट अथॉरिटी (JOSA) की ऑफिशियल वेबसाइट पर JEE-एडवांस में सिलेक्ट होने वाले कैंडिडेट्स 6 अक्टूबर सुबह 10 बजे से रजिस्ट्रेशन और रैंक के अनुसार संस्थानों में प्रवेश के लिये च्वॉइस फिलिंग कर सकते हैं। यह प्रक्रिया 15 अक्टूबर तक जारी रहेगी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


JEE Advance 2020 Result Analysis: General category cutoff fell by 7.5%, 4,499 more candidates qualified than last year

Leave a Reply