क्वालिफाइंग परीक्षाओं के रिजल्ट के बिना ही एडमिशन देगा इग्नू, प्रोविजनल एडमिशन के लिए 31 दिसंबर तक डॉक्यूमेंट्स कर सकते हैं स्टूडेंट्स


इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (इग्नू) इस साल क्वालिफाइंग परीक्षाओं के रिजल्ट के बिना ही जुलाई सत्र 2020 के आवेदकों को प्रोविजनल एडमिशन की अनुमति देगा। इस बारे में यूनिवर्सिटी ने जानकारी दी यह फैसला कोरोना महामारी की स्थितियों को ध्यान में रखते हुए किया गया है। दरअसल, कोरोना की वजह से देश के कई शैक्षणिक संस्थान बंद होने और परीक्षा के परिणाम की घोषणा में हुई देरी के चलते यूनिवर्सिटी ने यह फैसला किया।

31 दिसंबर तक जमा करना होगा डॉक्यूमेंट्स

इस बारे में जारी नोटिफिकेशन में इग्नू ने बताया कि ऐसे आवेदकों को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार राहत प्रदान करने के लिए, इग्नू निम्नलिखित शर्तों के तहत इच्छुक छात्रों को प्रोविजनल एडमिशन देगा। अंडरग्रेजुएट (यूजी) प्रोग्राम के लिए, उम्मीदवारों को उन डॉक्यूमेंट्स को प्रस्तुत करना होगा, जो उन्हें प्लस 2 परीक्षा में पास बता सकें।

जबकि पोस्ट ग्रेजुएट (पीजी) कोर्सेस के लिए, कैंडिडेट को बैचलर डिग्री के दूसरे साल / 5वें सेमेस्टर पास होने का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा। प्रोविजनल एडमिशन के इच्छुक कैंडिडेट्स को 31 दिसंबर तक इन डॉक्यूमेंट्स जमा करना होगा।

15 अक्टूबर ले सकते हैं एडमिशन

इसके साथ ही इग्नू ने एडमिशन के लिए लास्ट डेट भी बढ़ाकर 15 अक्टूबर कर दी है। इसके अलावा, जून-दिसंबर टर्म-एंड परीक्षा के लिए असाइनमेंट सबमिशन की समय सीमा भी बढ़ा दी है। जिन उम्मीदवारों ने अभी तक आवेदन नहीं किया है, वे ऑफिशियल वेबसाइट ignou.ac.in पर आवेदन कर सकते हैं। जून 2020 की समाप्ति-परीक्षा के लिए असाइनमेंट जमा करने की आखिरी तारीख 10 अक्टूबर तक बढ़ा दी थी। वहीं, TEE दिसंबर 2020 की परीक्षा 31 अक्टूबर तक जमा की जा सकती है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


IGNOU will give admission without qualifying exam results, students can submit documents till December 31 for provisional admission

Leave a Reply